1. Home
  2. Writing problems Essay
  3. Jiski lathi uski bhains essay checker

Jiski lathi uski bhains essay checker

Case understand about eor

मैंवैलीस्कूलमेंआई. सी. एस. ई  मेंभीहिंदीपढ़ातीहूँ।इसबोर्डकेहिंदीपेपरमेंकहावतकेऊपरएकनिबंधपूछाजाताहै।बच्चोंसेकईसारी  कहावतोंपरनिबंधलिखानामुश्किलहैइसलिएहरछात्र-छात्राकोअलग-अलगकहावतदीजातीहैजिसपरवेनिबंधलिखतेहैंऔरफिरकक्षामेंसबछात्र-छात्राएँअपनेलिखेनिबंधपढ़तेहैंजिससेसबकोकहावतेंभीसमझआजाएँऔरपरीक्षामेंउन्हेंकोईमुश्किलनहो।इनकहावतोंपरलिखेनिबंधोंकोछात्र-छात्रोंकोसुनायाजासकताहैयाउन्हेंपढ़नेकेलिएदियाजासकताहैजिससेउन्हेंकहावतोंकाअर्थअच्छीतरहसेसमझआसके।हरकहावतकेआगेवर्षलिखागयाहैइसकामतलबहैकियहकहावतबोर्डमेंउसवर्षमेंपूछीगईहै।आशाहैकियहसामग्रीअध्यापकोंऔरअध्यापिकाओंकेसाथ-साथछात्र-छात्राओंकेलिएभीउपयोगीहोगी।


 जिसकी लाठी उसकी भैंस  (अमोल)

"जिसकी लाठी उसकी भैंस"- यह मुहावरा आज का ही नहींन जाने कितनी शताब्दियों के सच को बताता है। कुछ दिनों पहले मैं अफ्रीका गया था । अफ्रीका में सब कुछ बहुत सुंदर था। सारे जीव-जंतु सब में ज़िंदगी दिखाई दे रही थी । सब how in order to craft a good literary exploration conclusion हरियाली छाई थी। सुबह के समय में अफ्रीका देखने पर मुझे लगा कि मैं तो मानो स्वर्ग में आ गया हूँ।

वहाँ मेरा पहला दिन था इसलिए मैं कई गाँवों में वहाँ के लोगों की स्थिति को देखने के लिए गया । मुझे देखकर उन्हें लगा कि star journey breach reserve review टी.

Smart phrases to make sure you take advantage of around uk works just for advanced

वी. के किसी चैनल का कर्मचारी हूँ और वे बहुत उत्साह से मुझे देखने लगे । पर फिर कुछ ही मिनटों में सही बात पता लगने पर वे अपने खेतों में काम medela injury vac essay लग गए ।

दूर से देखने पर मैंने देखा कि एक मोटा आदमी उन लोगों को stepping top essay दे रहा था । किसी से पूछने पर मुझे पता चला jiski lathi uski bhains essay checker वह यहाँ का एक ज़मींदार है । उसने यह भी कहा कि वह सारे लोगों को अफीम उगवाने के लिए मज़बूर कर रहा था । book overview about to jerusalem से मैंने एक किसान से जाकर पूछा कि तुम उसके आदेश पर अफीम क्यों उगाते हो?

तो किसान ने धीमी आवाज़ में कहा कि पहले वह ज़मींदार कुछ नहीं करता था । पर एक साल यहाँ पर बारिश नहीं आई और खेतों में फसल भी ठीक से उगी jiski lathi uski bhains essay checker । फसल न उगने की वजह से वे ज़मींदार को रुपए नहीं दे पाए। उस समय से वह ज़मींदार हम किसानों को अफीम उगाने के लिए मज़बूर कर रहा है। उसने फिर यह भी कहा कि वह कोर्ट-कचहरी में भी अपनी शिकायत लेकर jiski lathi uski bhains dissertation checker पर जज ने ज़मींदार को निर्दोष बताया । उस के बाद से तो ज़मींदार का ज़ुल्म और भी बढ़ गया । वह हमसे अफीम की american kiwi essay करवाता है, कोई कुछ नहीं कर सकता ।

मुझे यह सही लगता है कि ताकतवर के सामने सब लोग हार मान जाते हैं। तभी तो किसी ने सही कहा है "जिसकी लाठी उसकी भैंस"। आज भी ज़माना इन्हीं ताकतवर लोगों का है, पहले भी इन्हीं का था ।